Ultracet Tablet Uses, Benefits And Side Effects In Hindi

Ultracet Tablet Uses In Hindi

आज हम Janssen Company की एक ऐसी दवा के बारे में जानेंगे जो खासकर दर्द को खुद से दूर करने के लिए विशेष रूप से जानी जाती है. जी हाँ हमारी पोस्ट Ultracet Tablet Uses In Hindi में आप जानेंगे इसके Benefits, Dose और Side Effects. यानी की Ultracet Tablet की पूरी जानकारी आपको इस पोस्ट में मिलने वाली है.

इस दवा को बनाने में इस्तेमाल किये जाने वाले तत्व या पदार्थ बहुत ही प्रभावशाली होते हैं. जिनका दर्द के ऊपर बहुत ही अच्छा असर होता है. किसी Surgey के बाद या फिर Cancer से जूझ रहे ऐसे मरीज जिन्हें तेज दर्द की शिकायत होती है, वो इस दवा का उपयोग अक्सर करते रहते हैं और उन्हें इसका काफी अच्छा परिणाम भी मिलता है.

वैसे ये लेने के लिए आपको Doctor के Prescription की जरुरत होती है. आप इसे यूँ ही किसी Medical Store से नहीं खरीद सकते हैं. वैसे India में कई इस जगह इस क़ानून की धज्जियाँ उड़ रही हैं और लोग आराम से इसे बिना डॉक्टर के पर्चे के खरीदकर Ultracet Tablet Benefits का लाभ उठा रहे हैं.

Ultracet Tablet क्या है – What Is Ultracet Tablet In Hindi

सबसे पहले जान लेते हैं की Ultracet Tablet क्या होती है और इसे कैसे बनाया जाता है. इस दवा को बनाने में मुख्य रूप से 2 तत्वों का प्रयोग किया जाता है. एक का नाम है ट्रामडोल और दूसरी जो इसमें चीज़ मौजूद होती है उसका नाम ऐसिटामिनोफैन. ये दोनों तत्व हमारे शरीर में दर्द के अहसास को कम करने का काम करते हैं.

इन्ही दोनों को मिलाकर Ultracet Tablet को बनाया जाता है. एक Tablet में 325 mg ऐसिटामिनोफैन और लगभग 37.5 mg ट्रामडोल होता है. चलिए अब आपको बताते हैं Ultracet Tablet काम कैसे करती है. दरअसल हमारे शरीर में होने वाले दर्द को हमें महसूस करवाने में हमारे तंत्रिका तंत्र का हाथ होता है. तंत्रिकाएं ही हमारे मष्तिष्क तक दर्द होने का संकेत पहुंचाती हैं.

यहीं से Ultracet का काम शुरू होता है. इसमें मौजूद ट्रामडोल हमारे शरीर में ऐसे तत्वों पर लगाम लगाता है जो एक तत्रिका से दूसरी तंत्रिका तक दर्द का संकेत भेजते हैं. इस तरह से दर्द का संकेत हमारे दिमाग तक पहुँच ही नहीं पाता और दर्द होना बंद हो जाता है. वहीँ दूसरा तत्व ऐसिटामिनोफैन बहुत अधिक तेज हो रहे दर्द की संवेदना को बिलकुल कम कर देता है.

इसीलिए Ultracet Tablet के फायदे इतने ज्यादा प्रभावशाली है. इसे Normal दर्द के लिए कम ही लोगों द्वारा Use किया जाता है. इसकी जरूरत तब पड़ती है जब दर्द कुछ ज्यादा ही हो या फिर लम्बे समय से चला आ रहा हो. वैसे कभी कभार इसे बुखार में भी इस्तेमाल किया जाता है. चलिए आपको बताते हैं किन किन स्थितियों में इसका इस्तेमाल किया जाता है.

Ultracet Tablet के उपयोग की जानकारी – Ultracet Tablet Uses In Hindi

जैसा की हमने आपको बताया की इस दवा का मुख्य काम दर्द को दूर करना है. शरीर के किसी भी हिस्से में किसी भी कारण से हो रहे दर्द को दूर करने के लिए ही Ultracet Tablet का इस्तेमाल किया जाता है. जैसे की – कमर दर्द, सिर दर्द, पीठ दर्द, गले में दर्द, बुखार, दांत का दर्द, जोड़ों का दर्द, एड़ी में दर्द, कलाई में दर्द, डेंगू, हाथ में दर्द या फिर माइग्रेन आदि में.

मतलब शरीर के किसी भी हिस्से में यदि सहनशक्ति से ज्यादा दर्द हो रहा है तो आप इस दवा को Doctor की सलाह से ले सकते हैं. ये बहुत ही Effective Medicine है, इसे आप आसानी से पानी के साथ ले सकते हैं. ध्यान रखियेगा की इसको आपको दांतों से तोडना, चूसना या चबाना नहीं है.

बस सीधा पानी के साथ इसे निगल जाइए. सिर्फ 30 मिनट के अन्दर आपको Ultracet Tablet Use करने के Benefits मिलने शुरू हो जायेंगे. आप इसे खाली पेट भी ले सकते हैं और भोजन करने के बाद भी. ये आपके रोग और स्थिति पर निर्भर करता है. या फिर आप चिकित्सक से सलाह भी ले सकते हैं.

अब बात करते हैं Ultracet की Dose के बारे में. की इसे कितनी मात्रा में और कब लेना चाहिए? देखिये इसकी कितनी Dose आपको लेनी है ये आपके दर्द के ऊपर निर्भर करता है. की आपको कितना दर्द हो रहा है, शरीर के किस हिस्से में हो रहा है और कितने समय से हो रहा है? सभी चीज़ों को देखने के बाद ही इसकी Dose तय की जाती है.

Ultracet Tablet Uses In Hindi

लेकिन Normally अगर आप हमसे पूछें तो इसकी 2 Tablet एक साथ इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है. आप दिन में 3 बार भी 2-2 tablets का इस्तेमाल कर सकते हो अगर आपका दर्द लगातार लम्बे समय से चला आ रहा है तो. लेकिन फिर भी Doctor का कोई विकल्प नहीं होता, उनसे सलाह जरूर लेनी चाहिए..

Ultracet Tablet Uses In Hindi लेख आपके लिए लेकर आने का हमारा एक मात्र मकसद आपको सही जानकारी देकर आपकी मदद करना है. हम नहीं चाहते की गलत जानकारी के चलते आपको कोई नुकसान हो. इसलिए यहाँ सबसे ज्यादा ध्यान वाली बात ये है की Ultracet Tablet का लम्बे समय तक इस्तेमाल करते समय हर Dose एक निश्चित समय पर ली जाए.

नहीं तो आपको दिक्कत हो सकती है. कई बार लोग समय पर खुराक लेना भूल जाते हैं और फिर याद आते ही ले लेते हैं. ऐसा बिलकुल भी ना करें, अगर Dose Miss हो गयी है तो हो जाने दें, बस आप अगली खुराक पर ध्यान लगायें. सही तरीके से इस्तेमाल करने पर Ultracet Tablet के फायदे आपको काफी अच्छे मिलते हैं और Side Effects भी कम होते हैं.

चलिए अब बात Harmful Effects की आई है तो इस दवा के कुछ नुकसान भी जान लेते हैं. जैसा की हम जानते ही हैं की हर Allopathic Medicine के कुछ ना कुछ Side Effects तो जरूर होते हैं. वैसे ये जरूरी नहीं की यहाँ बताये गए सभी साइड इफेक्ट्स आपको भी हों. हो सकता है इनमें से सिर्फ 2 या 3 ही हों, हर व्यक्ति को अलग अलग Problem Face करनी पड़ सकती है.

Side Effects Of Ultracet Tablet In Hindi – Ultracet Tablet के नुकसान

(1) सिर दर्द

(2) उल्टी

(3) कब्ज

(4) सूजन

(5) थकान

(6) खुजली

(7) लीवर को नुकसान

(8) सांस लेने में दिक्कत

(9) मुहं सूखना

(10) चक्कर आना

(11) भूख ना लगना

(12) दस्त

ये सारे Ultracet Tablet Use करने के Side Effects हैं जो बहुत सारे लोगों में देखने को मिलते हैं. लेकिन सभी को ये सारे नुकसान नहीं होते, किसी को पहला, किसी को दूसरा या किसी को दंसवा हो सकता है. इसलिए इसका इस्तेमाल बहुत ही सावधानी के साथ करना चाहिए. चलिए जानते हैं किन किन चीज़ों का हमें ध्यान रखना है इसे इस्तेमाल करते समय.

Ultracet Tablet का Use करते समय बरतने लायक सावधानियां

  • अगर आपको सांस लेने में तकलीफ हो तो इस दवा का इस्तेमाल ना करें.  अगर आपको लीवर से सम्बंधित कोई समस्या पहले से है तो इस दवा का इस्तेमाल करने से बचें.
  •  अगर आपको किसी प्रकार की एलर्जी है तो दवा लेने से पहले एक बार डॉक्टर से जरूर परामर्श लें.
  • मानसिक रोगों में भी इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए, इससे आप बहक सकते हैं और दिमाग चकरा सकता है.
  •  कभी भी शराब पीने के बाद ये दवा ना लें, या दवा लेने के बाद शराब ना पीयें.
  •  अगर आप गर्भवती महिला हैं या फिर अपने बच्चे को स्तनपान कराती हैं तो Ultracet Tablet Use करने से पहले डॉक्टर से जरूर परामर्श करें.
  •  इस दवा को लोग खाली पेट भी ले लेते हैं लेकिन आपको बतादें की खाना खाने के बाद इसे लेना ज्यादा सुरक्षित है.
  •  अगर आप इस दवा का सेवन कुछ ज्यादा ही कर रहे हैं, यानी Overdose ले रहे हैं तो आपके गुर्दों पर इसका बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है.

ये थी कुछ सावधानियां जिनका आपको इस Medicine का इस्तेमाल करते समय ध्यान रखना है. वैसे आपको बतादें की तेज दर्द या लम्बे समय से चले आ रहे दर्द को दूर करने के लिए Ultracet एक बेहतरीन दवा है. लेकिन हर दवा का इस्तेमाल सही तरीके से और Doctor से पूछकर ही करना चाहिए. आप भी ऐसा ही करें और स्वस्थ रहें.

ये भी पढ़ें –

तो ये थी हमारी पोस्ट Ultracet Tablet Uses In Hindi जिसमें हमने आपको Ultracet Tablet के फायदे और नुकसान बताये. पोस्ट आपको कैसी लगी Comment करके जरूर बताएं. पोस्ट को Like और Share जरूर करें. हमारे साथ जुड़ना चाहते हैं तो हमारे Facebook Page को Like करलें और हमें सब्सक्राइब करलें. धन्यवाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *