Smoking के नुकसान | धुम्रपान (Smoking) करना कैसे छोड़ें

Smoking के नुकसान

जो लोग Smoking के नुकसान जान चुके हैं वो अब जरूर सोच रहे होंगे की धुम्रपान करना कैसे छोड़ें? लेकिन काफी सारे लोग अभी ऐसे भी हैं जो धुम्रपान करने के नुकसान नहीं जानते क्योंकि हो सकता है वो कुछ ही दिन से बीडी – सिगरेट पी रहे हों. हो सकता है ऐसे लोगों को अभी Smoking के Health Side Effects देखने को ना मिले हों.

तो ऐसे लोग भी आज हमारी पोस्ट में Smoking करने के नुकसान पढ़कर पक्के तौर पर सोचना शुरू कर ही देंगे की Smoking करना कैसे छोड़ें. शौक शौक के चक्कर में लाखों-करोड़ों युवाओं को आज इस गलत आदत की लत लग चुकी है, कई लोगों का जीवन तो लगभग बर्बाद ही हो चुका है, क्योंकि समय रहते उन्होंने नहीं सोचा की धुम्रपान की लत से छुटकारा कैसे पायें.

कुछ वक़्त ने और कुछ गलत संगत ने आज के युवाओं की ज़िन्दगी को बदल कर रख दिया है. उन्हें उस मोड़ पर लाकर खड़ा कर दिया है, जहाँ से वापस आने का उन्हें रास्ता ही नहीं दिख रहा है. वक़्त को हम इसीलिए ज़िम्मेदार ठहरा रहे हैं क्योंकि आजकल Expectations इतनी बढ़ चुकी हैं की युवा किसी भी काम में असफल होते ही नशे की तरफ भाग रहा है.

Smoking के नुकसान पता होते हुए भी युवाओं का एक बहुत बड़ा वर्ग इसकी चपेट में आ रहा है. माता-पिता इतने व्यस्त हैं की उन्हें पता ही नहीं है की उनके बच्चे की दिनचर्या क्या है और वो किनके साथ समय गुजार रहा है. उन्हें पता तब चलता है जब वो इन सब का आदि हो चुका होता है.

Smoking Addiction से सिर्फ एक आदमी की ज़िन्दगी बर्बाद नहीं होती, बल्कि ये पूरे परिवार पर असर डालती है. जो भी युवा अभी शौक के चक्कर में धूम्रपान कर रहे हैं वो ध्यान दें, अभी आप लोगों को पास मौका है खुद को सुधारने का, धूम्रपान छोड़ने का. नहीं तो एक दिन ऐसा आएगा की आप रोज सोचोगे की धूम्रपान कैसे बंद करे लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी होगी.

आप बहुत दूर पहुँच चुके होगे और वहां से वापिस आना बहुत ही कठिन होगा. उसके बाद पछताने के अलावा आपके पास कुछ नहीं रह जाएगा. यहाँ बात सिर्फ युवाओं की नहीं है, भारत देश की कुल आबादी का 20% हिस्सा धूम्रपान करता है, इससे देश बीमार होता जा रहा है.

ये हम सबकी और देश की तरक्की में बाधा बन रहा है. इसलिए हम उन सबको, जो Smoking करते हैं, बताने वाले हैं की बीड़ी सिगरेट पीने के नुकसान घातक हैं. समय रहते हमें अपनी इस बुरी आदत पर Control करना बहुत ही जरूरी है. यही कारण है की हमें ये लेख How To Quit Smoking In Hindi प्रकाशित करना जरूरी लगा.

धुम्रपान से होने वाले स्वास्थ्य नुकसान किसी भी व्यक्ति को हर तरह से प्रभावित करते हैं. जहाँ इसके कई शारीरिक नुकसान हैं वहीँ इसके मानसिक नुकसान तो उससे भी ज्यादा हैं. कुछ ही सालों में ये आदमी को हर तरह से बूढा बना देता है. तो चलिए सबसे पहले जानते हैं की धुम्रपान करने से हमारे शरीर पर कौन कौन से बुरे प्रभाव होते हैं.

Smoking Side Effects In Hindi – Smoking के नुकसान

(1) फेफड़े के कैंसर का खतरा– धूम्रपान करने के दौरान उसकी सारी धुआं हमारे फेफड़े अवशोषित करते हैं, उस धुआं में बहुत ही खतरनाक टार पायी जाती है. लगातार धूम्रपान करते रहने से हमारे फेफड़ों में टार की मात्रा बहुत बढ़ जाती है और ये कैंसर का कारण बनती है. महिलाएं अगर धूम्रपान करती हैं तो वो बहुत ही जल्दी फेफड़ों के Cancer का शिकार होती हैं.

Smoking कैसे छोड़ें

(2) अवसाद– लगातार धूम्रपान करते रहने से आदमी Anxiety या Depression का शिकार हो जाता है. ये बात प्रमाणित है की जो लोग बहुत ज्यादा धूम्रपान करते हैं उनके अवसाद में जाने का खतरा बहुत ज्यादा हो जाता है. शुरू शुरू में आदमी थोड़ी बहुत बेचैनी, डर वगैरह महसूस करता है, जिसे वो Ignore कर देता हैं. लेकिन ये समस्या धीरे धीरे बढती हुयी Depression का रूप धारण कर लेती है.

(3) जल्दी बूढा होना– धुम्रपान करने के नुकसान ऐसे ऐसे भी हैं जिन पर कई बार हमारा ध्यान नहीं जाता. जैसे उम्र का असर आदमी पर बहुत जल्दी दिखना शुरू हो जाना. आप 5 आदमी Smoking करने वाले और 5 आदमी बिना Smoking करने वालों को इकठ्ठा खड़ा करके गौर से देखिये. आपको फर्क पता चल जाएगा. आप पाएंगे की धुम्रपान करने वालों की त्वचा मुरझा चुकी है.

(4) दिल की बीमारियाँ– दिल हमारी शरीर रुपी मशीन का इंजन है. सोचिये अगर वही बीमार हो जायेगा तो कैसे काम चलेगा. जैसा की ऊपर आपको बताया गया है की धूम्रपान से मिलने वाली टार हमारे खून में मिलने के कारण कभी भी आदमी को Stroke आ सकता है. मतलब समझ रहे हैं न आप? Heart Attack का खतरा बढ़ जाता है. और भी दिल से सम्बंधित बीमारियाँ हो जाती हैं.

(5) Energy कम हो जाना– शुरू शुरू में जब आदमी धूम्रपान करता है तो उसे Smoking के नुकसान महसूस होने के बजाय ऐसा लगता है की उसे उससे उर्जा मिल रही है. जिसके कारण धीरे धीरे वो उसकी Dose को बढाता रहता है ताकि वो खुद को और ज्यादा Energetic महसूस कर सके.

लेकिन उसके बाद एक समय ऐसा आता है की उसी नशे के कारण उसकी Energy का level बहुत नीचे गिर जाता है और वो बस आलस का शिकार बनकर रह जाता है. उसकी स्थिति ऐसी हो जाती है की कोई भी काम शुरू करने से पहले वो धूम्रपान करना जरूरी समझता है.

(6) प्रज़नन क्षमता कम हो जाना– जितने भी हम Smoking Side Effects आपको बता रहे हैं उनमे से ये भी एक बड़ा नुकसान है और ज़िन्दगी को बुरी तरह से प्रभावित करता है. आदमी की प्रज़नन क्षमता उसके रक्त परिसंचरण और वीर्य की गुणवत्ता पर निर्भर करती है. अगर प्रज़नन अंगों में रक्त सही से नहीं पहुंच पा रहा है तो आप प्रज़नन कर ही नहीं सकते.

धूम्रपान करने से रक्त का संचार बाधित होता है और वीर्य की गुणवत्ता पर असर पड़ता है. यही कारण है की धूम्रपान के कारण आपकी प्रज़नन क्षमता दिन ब दिन कम होती चली जाती है और आपको शादीशुदा ज़िन्दगी में बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

(7) दिमाग कमज़ोर होना– धुम्रपान करने से हमारे दिमाग में खून की सप्लाई बाधित होती है जिससे वो निरंतर कमजोर होता चला जाता है. एक समय ऐसा आता है जब आपकी यादाश्त बहुत कमजोर हो चुकी होती है. आप बहुत कुछ भूलने लगते हैं और दिमाग में नए Ideas आना बंद हो जाते हैं.

(8) होंठ काले पड़ जाना– Smoking करने वाले लोगों की होठों की त्वचा झुलस जाती है. उनपर काला रंग स्थायी रूप से अपनी जगह बना लेता है, जो की बहुत ही भद्दा लगता है. धूम्रपान करने वाले लोगों को उनके होंठ देखकर कोई भी उनको आसानी से पहचान लेता है. Smoking करने के नुकसान उनके होठों पर आसानी से देखे जा सकते हैं.

(9) सांस फूलने की बीमारी– Smoking करने वाले लोगों का थोड़ी सी मेहनत करने में ही सांस फूलने लगता है. आपने अस्थमा के बारे में सुना ही होगा, सांस फूलने की इसी बीमारी को अस्थमा कहते हैं जो की धूम्रपान का सबसे बड़ा Harmful Effect है. इसी के साथ कफ भी जमा हो जाता है जो की बहुत परेशानियाँ पैदा करता है.

(10) आंत सिकुड़ जाना– धूम्रपान करने से आदमी की आंतें सिकुड़ जाती हैं. जिससे उसे भूख भी कम ही लगती है. आपने कई लोगों को कहते हुए सुना होगा की धूम्रपान किये बिना उनका पेट साफ़ ही नहीं होता. असल में ये आंत सिकुड़ने के कारण ही होता है. आदमी जब सुबह उठते ही धूम्रपान करता है तो आंत सिकुड़ती है और उसमे मौजूद मल पर बाहर निकलने के लिए दवाब पड़ता है.

तो ये तो थे Smoking के नुकसान जो हमारे हिसाब से काफी खतरनाक हैं. आपको भी पता लग ही गया होगा की बीडी सिगरेट पीने के कितने भयंकर दुष्परिणाम हो सकते हैं. अब अगर आपने सोचना कर दिया है की धुम्रपान करना कैसे बंद करें तो अच्छी बात है. हम आपको बताएँगे की धुम्रपान की आदत से छुटकारा कैसे पायें? ऐसा क्या करें?

How To Quit Smoking In Hindi – Smoking कैसे छोड़ें

धुम्रपानकी लत लगने के बाद इसे छोड़ना बहुत मुश्किल बन जाता है. लेकिन वो कहते हैं न की अगर हम कोशिश ही ना करें तो वो गलत है. हम यहाँ आपको Smoking को छोड़ने के कुछ उपाय बताने जा रहे हैं जिनसे आपको काफी मदद मिलेगी. अब आगे कोशिश करना आपका काम है.

(1) सबसे पहले दृढ़ निश्चय करें– धूम्रपान छोड़ने के लिए सबसे पहले आपको दृढ़ निश्चय करना होगा. आपको सोचना होगा की इतने दिन से लगी हुयी लत को छोड़ने में कुछ परेशानियां तो होंगी ही. आपको इनसे घबराना नहीं है और अपने फैसले पर अटूट रहना है. थोड़ी सी बेचैनी होने से कोई मर नहीं जाता है.

Smoking के नुकसान

(2) अपने रूटीन को पूरा बदल दें– असल में होता क्या है हर नशा करने वाले आदमी ने नशा करने का अपना समय बनाया हुआ होता है, जैसे 1 बार उठते ही Smoke करना है, उसके बाद चाय पीने के बाद, फिर खाना खाने से पहले और फिर खाना खाने के बाद. तो आपको क्या करना है की अपना पूरा Routine ही बदल देना है. साथ में ये ध्यान रखना है की अब मुझे कोई भी काम करने से पहले धूम्रपान नहीं करना है.

(3) तलब को इंतज़ार कराएँ– आम तौर पर लोग तलब लगते ही धूम्रपान शुरू कर देते हैं, आपको ऐसा नहीं करना है, जब भी तलब लगे उसे लगी रहने दें और इंतज़ार कराएँ. आप किसी से बात करना शुरू कर दें या लोगों के बीच जाकर बैठ जाएँ, पर धूम्रपान न करें. धीरे धीरे आपको महसूस होना शुरू हो जायेगा की अगर तलब लगने पर भी धूम्रपान ना किया जाये तो कुछ नहीं होता.

इस तरीके से समय को बढाते जाएँ. एक दिन ऐसा आएगा की दिन में सिर्फ 2 या 3 बार धूम्रपान करने से ही आपका काम चलने लगेगा. अब आप धीरे धीरे करके उसे बिलकुल बंद कर दीजिये. सिर्फ Smoking करना कैसे छोड़ें को सोचना ही काफी नहीं अपितु आपको मानसिक रूप से मज़बूत बने रहना होगा.

(4) व्यस्त रहें– अपने आप को व्यस्त रखना भी इस समस्या से जल्दी छुटकारा दिला सकता है. आपको ध्यान ये रखना है की आप अकेले किसी चीज़ में व्यस्त न रहें. अकेला आदमी चाहे किसी भी चीज़ में व्यस्त रहे वो बीच बीच में धूम्रपान कर ही लेता है. आप अच्छे लोगों के बीच बैठें, उनकी बात सुनें.

आप पाएंगे की आपका बहुत सारा समय बिना धूम्रपान किये ही कट रहा है.उनके बारे में सोचें जिनसे आप प्यार करते हैं- बीच बीच में आपको ये जरूर सोचना है की अगर धूम्रपान के कारण आपको कुछ हो गया तो आपके परिवार और आपके बाल बच्चों का क्या होगा.

भविष्य में उनका साथ देने वाला कोई नहीं है. इन सब बातों पर विचार करने से आपको अपने फैसले पर अटल रहने की ताकत मिलेगी. Smoking के नुकसान अपने दिमाग से हटने ना दें.

(5) खुश रहें– आम तौर पर आदमी सबसे ज्यादा नशा तब करता है जब वह तनाव में होता है. आप हमेशा ऐसे कामों में व्यस्त रहिये जिनको करने से आपको ख़ुशी मिलती हो. आप खुश रहेंगे तो यक़ीनन आप धूम्रपान को जल्दी से जल्दी छोड़ पाएंगे और आपको ऐसा करने में आसानी होगी.

(6) कैफीन से दूरी बनाएं– कैफीन और निकोटिन का बहुत ही गहरा रिश्ता होता है. कैफीन लेते ही आपका मन निकोटिन लेने की तरफ भागेगा. तो जिन चीज़ों में Caffine होता है जैसे चाय और Colddrinks वगैरह को छोड़ दें. इससे आपको Smoking की लत से छुटकारा पाने में आसानी होगी.

धुम्रपान से छुटकारा पाने के लिए अन्य घरेलू उपाय

(1) अजवायन चबाएं – अगर आप दृढ निश्चय के साथ Smoking बंद करना चाहते ही हैं तो अजवायन इसमें आपकी मदद कर सकती है. अजवायन में कुछ ऐसे गुण पाए जाते हैं जो Nicotine की तलब को कम करने में सहायक है. जब भी आपको ऐसा लगे की अब धुम्रपान करने से खुद को रोकना बहुत मुश्किल हो रहा है आप अजवायन मुहं में रखकर धीरे धीरे चबाएं.

(2) Chewing Gums का Use करें – आजकल Market में कई ऐसी Chewing Gums मिलती हैं जो आपकी बीडी या सिगरेट पीने की तलब को मारने का काम करती हैं. उदाहरण के लिए Nicotex ऐसी ही एक Chewing Gum है. लेकिन आप इनका इस्तेमाल तभी करें जब ये बहुत ही ज्यादा जरूरी हो. 24 घंटे में 3-4 Chewing Gums का उपयोग आप कर सकते हैं.

(3) दालचीनी का टुकड़ा मुहं में रखें – कई लोगों द्वारा Smoking छोड़ने में दालचीनी के फायदे बताये जाते हैं. इससे पता चलता है की वाकई दालचीनी Nicotine की इच्छा को कम करने का काम करती है. आप अपनी जेब में कुछ दालचीनी के टुकड़े रखें और Smoking का मन करते ही एक टुकड़ा मुहं में रख लें.

(4) शहद या अंगूर का रस – जिस प्रकार हमें Alcohol छोड़ने के लिए उसे शरीर से जल्दी से जल्दी बाहर निकालने की जरुरत पड़ती है उसी प्रकार Nicotine को भी खून से अलग करना जरूरी है. जिसका सबसे अच्छा प्राकृतिक तरीका है अंगूर का रस या फिर शहद के सेवन. इनके Smoking छोड़ने के अन्य उपायों के साथ साथ इनका सेवन जरूर करें.

(5) Nicotine Replacement Therapy – ये एक ऐसी चीज़ है जो उन लोगों के लिए जरूरी होती है जो बहुत ही Heavy Smokers होते हैं. उनके लिए सिगरेट छोड़ना और ज्यादा मुश्किल हो जाता है. इसलिए उन्हें थोडा थोडा Nicotine किसी ना किसी रूप में (जैसे Spray, Gums या अन्य चीज़ों के सहारे) दिया जाता है ताकि Smoking छोड़ते वक़्त बहुत ज्यादा बेचैन ना हों.

तो उम्मीद है आप समझ ही गए होंगे की Smoking कैसे छोड़ें? ऐसा करने में आपको थोड़ी तकलीफ जरूर होगी लेकिन अगर आपका निश्चय अटल है तो आप जरूर कामयाब हो जायेंगे. किसी भी लक्ष्य को पाने के लिए हमें मेहनत तो करनी ही होती है.

अन्य बेहतरीन लेख

आप पढ़ रहे थे हमारा लेख Smoking के नुकसान –  धूम्रपान करना कैसे बंद करे (How To Quit Smoking In Hindi).उम्मीद है धुम्रपान की लत से छुटकारा कैसे पायें आप समझ चुके हैं. पोस्ट आपको कैसी लगी हमें Comment करके जरूर बताएं. पोस्ट को Like और Share करना मत भूलियेगा. हमारे साथ जुड़ने के लिए हमारे Facebook Page को Like जरूर कर लें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *