Depression का इलाज और दवा | डिप्रेशन क्या है और इसे कैसे दूर करें

Depression का इलाज

Depression यानी अवसाद एक ऐसी बीमारी है जो किसी भी व्यक्ति के जीवन को नीरस और कठिन बना देती है. Depression का इलाज सही समय पर लेना बहुत ही जरूरी है. इस लेख में जानिए Depression क्या है और क्यों होता है. साथ ही जानेंगे की घरेलू उपाय करके Depression को कैसे दूर करें या इस अवसाद से बाहर कैसे निकलें.

ये सच है की Depression दूर करने की दवा भी तभी काम करती हैं जब आप उन Medicines के साथ साथ अपनी Lifestyle में भी कुछ Changes करते हैं. तो इस लेख में हम इन्ही सब चीज़ों पर बात करेंगे और जानेंगे Depression को ख़त्म करने के उपाय व् तरीके जिन्हें आप घर पर रहकर ही आराम से कर सकते हैं.

आज कल की भागती दौड़ती ज़िन्दगी में हर इंसान कुछ ना कुछ कर गुजरने के लिए प्रतिदिन लगा ही रहता है, सुबह से शाम और शाम से रात, बस काम और काम, अपने लिए या कहूं तो अपने बारे में सोच विचार करने के लिए किसी के पास दो मिनट तक का समय भी नहीं है।

लोग धीरे – धीरे अपने परिवार से दूर होते जा रहे हैं, पास होते हुए भी उन्हे ये नहीं पता होता कि उन्होंने आखिरी बार साथ में अच्छी तरह से वक्त कब बिताया था, आज – कल के Technology के जमाने में लोग दिनों – दिन तनाव की गहराई में डूबते जा रहे हैं. जिसके कारण बड़ी संख्या में लोग अवसाद के शिकार होते चले जा रहे हैं.

यही कारण है की आज काफी सारे लोगों को Depression का इलाज (Treatment) लेने की जरुरत महसूस हो रही है. हर कोई यहां रोज़ाना किसी ना किसी बात से परेशान है, Tension में है, किसी को अपनी पढ़ाई की टेंशन है तो किसी को अपनी पढ़ाई पूरी होने के बाद नौकरी की टेंशन.

कोई अपने बिगड़ते Relations से परेशान है तो कोई अपनी शादी – शुदा जिंदगी से. कोई अपनी खराब आर्थिक परिस्थितियों से परेशान है तो कोई आर्थिक परिस्थिति ठीक होने पर भी अनेकों परेशानियों से दुखी है। इतना सब कुछ हमारे समाज में हमारे आस पास रोज़ाना हो रहा है.

कोई भी इसके बारे में ना तो बात करने को तैयार है और ना ही इसका समाधान ढूँढने को. तो आज हम आपको Depression की पूरी जानकारी देंगे और साथ में Depression को दूर करने के उपाय और कुछ बढ़िया दवाओं (Medicines) के बारे में भी बताएँगे.

डिप्रेशन क्या है और इसके लक्षण क्या क्या हैं

आपको कभी ना कभी अपनी ज़िन्दगी में मामूली चोट तो ज़रूर लगी ही होंगी, जिस पर आप कोई दवा या घरेलू नुस्खे का इस्तेमाल करके उसे ठीक कर लेते हैं. या फिर जब कभी आपको कोई गहरी चोट लग जाती है तो Doctor आपको पट्टी बांध देता है, और कुछ दिनों के बाद आप अच्छा महसूस करते हैं और ठीक भी हो जाते हैं.

बस इसी तरह Depression का इलाज भी जरूरी है, क्योंकि ये भी एक चोट की ही तरह है. बस फर्क सिर्फ इतना सा है की ये चोट जिसके बारे में हमने अभी बात की वो सभी शरीर के बाहर की चोट है. लेकिन ये चोट हमारी आंतरिक चोट है हमारी मानसिक चोट या फिर अंदरूनी चोट होती है.

जिसके बारे में हमे पता भी नहीं चलता कि कब हम इसके शिकार हो जाते हैं. किसी को कानों – कान खबर तक नहीं लगती. बिना मतलब के गुस्सा करने लगना, छोटी – छोटी बातों पर बहुत जल्दी चिड़ – चिडे हो जाना, कहीं आने जाने का मन ना करना, किसी से मिलने जुलने का मन ना करना ये सभी इसी Depression के ही तो लक्षण या संकेत हैं.

जिनको दूर करने के लिए हमें Depression की दवा के साथ साथ कुछ घरेलु उपाय भी करने होते हैं. हम मानते हैं कि अवसाद से या Depression से बाहर आना आसान नहीं है, लेकिन हां अगर आप कोशिश में लग जाएं तो मुश्किल भी नहीं है. सबसे पहले हमें ये समझने की जरुरत है की Depression क्या है? क्यों होता है? मतलब इसके क्या कारण हैं.

Depression क्या है और क्यों होता है

अवसाद एक ऐसी स्थिति है जिसमें आप खुद को बहुत ही कमजोर, थका हुआ और बिलकुल निराश महसूस करते हैं. आपको ऐसा लगता है जैसे ज़िन्दगी का कोई मतलब ही नहीं है. आपको किसी भी चीज़ में मज़ा आना बंद हो जाता है. आप ऐसा महसूस करेंगे जैसे आपको कभी भी दिल से ख़ुशी महसूस ही नहीं होती.

Depression का शिकार व्यक्ति बहुत ही ज्यादा सोचने लगता है, उसका दिमाग बहुत ही तेज दौड़ना शुरू कर देता है. वह किसी चीज़ पर Focus ही नहीं कर पाता. बहुत अधिक सोचते रहने से वो भुलक्कड हो जाता है और साथ में मानसिक थकान बुरे तरीके से हावी हो जाती है.

रात को व्यक्ति जब सोने की कोशिश करता है तो उसके दिमाग में लगातार चल रहे नकारात्मक विचार उसे सोने ही नहीं देते. उसे नींद बहुत ही मुश्किल से आने लगती है और वो बुरी तरह से चिडचिडा हो जाता है. सुबह जब वो उठता है तो उसे दिमाग बहुत ही भारी महसूस होता है.

Depression से ग्रसित व्यक्ति की सोचने समझने की शक्ति बहुत ही कम हो जाती है और उसे छोटी छोटी बातों पर घबराहट होने लगती है. वह हमेशा डरा डरा सा रहता है, उसे लगता है की उसे कुछ हो जाएगा. या वो ऐसा सोचता रहता है की उसके साथ कोई नहीं है वो बिलकुल अकेला पड़ गया है.

उसे ऐसा लगता है जैसे वो चारों तरफ से घिर गया है और ऐसी स्थिति में कई बार लोग इतने परेशान हो जाते हैं की आत्महत्या तक करने की कोशिश करते हैं. तो कुछ ऐसे हैं Depression के लक्षण जो वाकई परेशान करने वाले हैं.

इसीलिए समय पर Depression का Treatment लेना बेहद जरूरी है, ताकि कोई भी व्यक्ति ऐसी स्थिति तक पहुंचे ही ना, जहाँ से उसे आत्महत्या के बारे में सोचना पड़े. उम्मीद है Depression क्या है आप बहुत ही अच्छे से समझ चुके हैं. चलिए अब Depression के कारण जानने की कोशिश करते हैं.

Causes Of Depression In Hindi – Depression क्यों होता है

डिप्रेशन के बहुत सारे कारण हो सकते हैं, बल्कि कई बार तो ये वंशानुगत भी हो सकता है. अगर आपके परिवार के बड़े बुजुर्गों में ये समस्या रही है तो हो सकता है आपमें भी हो जाए. पर ये बहुत ही कम होता है. Depression का इलाज तभी संभव है जब पहले Depression के कारण का पता हो.

इसीलिए Doctors पहले Patient को पूरी तरह से Examine करते हैं और उनकी Life की पूरी History जानने की कोशिश करते हैं. ताकि उन्हें पता चल सकते क्या Depression का असली Reason क्या है. तो चलिए जानते हैं की किन किन कारणों से किसी को भी Depression हो सकता है.

(1) बहुत ज्यादा शराब का सेवन व्यक्ति को डिप्रेशन की और धकेलता है. किसी भी प्रकार के नशे की अधिकता आदमी को अवसाद की तरफ ही ले जाती है और उसके Depression में जाने के Chance 70% तक बढ़ जाते हैं.

(2) अगर किसी व्यक्ति की लोगों के बीच में घोर बेइज्जती हुयी हो और वो उसे दिल पर ले ले तो वो आदमी Depression में जा सकता है.

(3) आप जो काम कर रहे हैं या कुछ करना चाहते हैं और उसमें आपको लम्बे समय से सफलता नहीं मिल रही है तो आप Depression का शिकार हो सकते हैं.

(4) अगर आप लम्बे समय से मानसिक तनाव से गुजर रहे हैं और ज्यादातर समय अकेले ही रहते हैं तो Depression में जाने के Chances हैं.

(5) किसी ऐसे व्यक्ति की मौत होने से भी Depression हो सकता है जिसे आप बहुत ज्यादा चाहते हों.

(6) Steroids या कई अन्य प्रकार की दवाओं के सेवन करने से भी Depression हो सकता है क्योंकि ये Harmones के संतुलन को बिगाडती हैं.

(7) किसी प्रकार की शारीरिक कमी या रोग की वजह से भी व्यक्ति अवसाद का शिकार हो सकता है.

(8) दिमाग में Neurotransmittors के गड़बड़ा जाने से भी Depression हो जाता है.

(9) अगर अचानक से कोई ऐसा व्यक्ति धोखा दे दे जिस पर आप बहुत ज्यादा विश्वास करते थे, तो भी ऐसा हो सकता है.

(10) अचानक से पैसे का कोई बड़ा नुकसान हो जाना भी आदमी को Depression का शिकार बना देता है.

तो ये थे Depression के कारण जिनके चलते व्यक्ति अवसाद रुपी अँधेरे में पूरी तरह से डूब सकता है. Depression का Treatment लेने के लिए आप किसी Pshycheatrist की Help ले सकते हैं. वो आपका एक Test लेते हैं जिसके बाद ही आपको Depression की दवा दी जाती है.

Depression दूर करने की दवा

लेकिन अगर आपको महसूस हो रहा है की आपमें अभी हल्के हल्के Depression के लक्षण शुरू हो रहे हैं, मतलब इनकी शुरुआत है तो आप खुद से ही कुछ घरेलू उपाय नुस्खे आजमाना शुरू कर दीजिये. हल्के लक्षण Lifestyle में कुछ Changes करने से ही दूर हो जाते हैं. ऐसा करने से आपको सोचने के जरुरत ही नहीं पड़ेगी की Depression कैसे दूर करें.

Depression Treatment In Hindi – Depression का इलाज

1 :-  स्वच्छ भोजन और रोज़ाना व्यायाम करें :- अगर आपको Depression जैसी बड़ी परेशानी से कोंसों दूर रहना है, और अगर आप चाहते हैं कि आपके साथ जब भी जो कुछ भी हो उस परिस्थिति से आप अच्छी तरह से और समझदारी से निपटें तो आपको रोज़ाना Healthy खाना खाना होगा.

जैसे कि हरे पत्तेदार सब्जी, सलाद और मौसमी फल इत्यादि का सेवन भरपूर करना चाहिए, और साथ ही साथ रोज़ाना कसरत या व्यायाम करना भी जरूरी है जिससे कि आपके शरीर में अलग ही जोश आएगा और आप दुखी रहने से बचेंगे. Morning Walk अवसाद से निपटने का एक बेहतरीन तरीका है.

2 :- अपने परिवार और दोस्तों से मेल – जोल बढ़ाएं :- अक्सर हम और आप सभी ने ये देखा होगा और महसूस भी करते ही होंगे कि पहले के ज़माने में लोग इतने ज़्यादा खुशहाल क्यों रहते थे क्योंकि वो सभी अपने परिवार से और दोस्तों से अधिक मेल – जोल बना कर रखते थे. सुबह के नाश्ते से लेकर रात के खाने तक हर काम में परिवार सर्वोपरी होता था.

लेकिन अब के ज़माने में मोबाइल, टीवी जैसी टेक्नोलॉजी की वजह से लोगों कि नज़दीकियां कम हो गई है, तो इसीलिए हम आपको यही सुझाव देंगे कि आप अपने परिवार और दोस्तों से दूर ना भागे बल्कि आपस में अच्छा तालमेल बना कर रखें। ये Depression दूर करने के उपाय बहुत ही ज्यादा कारगर हैं.

3 :- पूरी नींद लें :-  पूरे दिन कि लगातार क्रियाओं के बाद रात होते – होते हमारा शरीर थक जाता है और इसे विश्राम की ज़रूरत पड़ती है ताकि वो अगले दिन और भी बेहतर तरीके से काम कर सके, लेकिन कुछ लोग रात में भी इसे आराम नहीं देते हैं। शरीर के थके होने पर भी उससे काम लेते रहते हैं.

जो कि बहुत ही गलत बात है और जिससे कि नींद पूरी नहीं हो पाती है, और फिर सिर दर्द करने लगता है जिसका फल ये होता है कि हम चिड़ – चिडे होने लगते हैं और Depression का शिकार बन जाते हैं, तो इसीलिए रात में कम से कम 7-8 घंटे की अच्छी नींद लें और देर रात तक जागने की आदत को बिल्कुल छोड़ दें।

4 : -सकारात्मक लोगों कि संगति को अपनाएं :-  आपने वो कहावत तो बेशक सुनी ही होगी कि जैसी आपकी संगत होगी, ठीक वैसी ही आपकी रंगत भी होगी, जिसका मतलब ये है कि आप जैसे लोगो के बीच या संगति में रहोगे आप और आपके विचार भी ठीक वैसे ही हो जाएंगे.

अगर अच्छी और सकारात्मक लोगो कि संगति होगी तो आप भी सकारात्मक रहोगे और अच्छे विचारों से ही हमेशा घिरे रहोगे. यदि नकारात्मक लोगों के बीच रहेंगे तो सोच और विचार सब कुछ Negative ही बनेंगे. इसीलिए अगर Depression जैसी बड़ी परिस्थिति के आड़े आने से बचना चाहते हैं तो अच्छी और सकारात्मक लोगो की संगति में रहें.

5 :- मधुर संगीत का ले सहारा :- आप में से लगभग सभी लोगों को संगीत का तो शौक ज़रूर से होगा ही, काफी सारे लोग गाना भी पसंद करते होंगे, तो कई लोग इसे सुनना, लेकिन क्या आप जानते हैं कि Depression को दूर भगाने का सबसे अच्छा तरीका या माध्यम संगीत भी है.

जी हां संगीत की धुनों में वो शक्ति होती है जो हमारे मन में आ रहे उल्टे सीधे विचारों को नियंत्रण में रखती है। तो अगर आप भी Depressed हो चुके हैं तो किसी कमरे में आराम से बैठ कर अपने फोन या अन्य किसी चीज़ में मधुर संगीत को चालू कर उसे सुन सकते हैं, इससे ज़रूर आपको फायदा महसूस होगा.

6:- गुलकंद का सेवन :- आपने गुलकंद के बारे में सुना ही होगा ये हमारे स्वास्थ्य संबंधित समस्यायों में काफी मददगार साबित होता है. उसी तरह ये मानसिक समस्याएं यानी कि Depression का इलाज करने में भी कारगर है. गुलकंद को आपको रात में सोने से पहले एक Glass दूध में मिलाकर पीना चाहिए, जिससे कि आपका मन शांत होगा और आप अच्छा महसूस करेंगे.

7:- पान के पत्तों का सेवन :- पान खाने के भी काफी सारे लोग शौकीन होते हैं, लेकिन हम आपको बता दें कि ये पान के पत्ते भी हमें Depression से बाहर निकालने में काफी सहायता करते हैं. पान के पत्ते मानसिक समस्याओं में काफी अच्छा लाभ प्रदान करते हैं.

इसके लिए आपको पान के पत्तों को खूब अच्छी तरह से चबाना होगा, और इसके साथ ही साथ आप एक काम और भी कर सकते हैं. जिसमें आप इस पान के पत्ते को पानी में भिगो कर अपने माथे पर भी लगा कर कुछ देर के लिए रख सकते हैं इससे भी काफी फायदा देखने को मिलता है।

8:- अश्वगंधा का सेवन :- अगर आप सोच में पड़े हैं की Depression से बाहर कैसे निकलें तो अश्वगंधा को Ignore ना करें. अश्वगंधा भी अवसाद को दूर भेजने में काफी कारगर है, जिसके लिए आपको प्रतिदिन शहद के साथ एक चम्मच अश्वगंधा का सेवन करना ही चाहिए.

वैसे भी शहद एक ऐसी चीज़ है जो आम तौर पर हमारे सब के घरों में आसानी से पाई जा सकती है, और अश्वगंधा का नाता भी आयुर्वेद से है. तो आप इन दोनों का सेवन अच्छे से कर सकते हैं, इससे भी आपको आपके Depression के लक्षणों को दूर करने में मदद मिलेगी।

9:- नारियल के तेल से मसाज :- अक्सर काफी ज़्यादा थक जाने पर, सर दर्द करने पर या Tension का स्तर बढ़ जाने पर मसाज का सहारा लेते हैं. कोई सिर्फ सिर की मसाज का आनंद लेता है तो कोई पूरे शरीर कि मसाज का। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मसाज़ Depression दूर करने में भी सहायक है.

आपको करना बस इतना है कि नारियल का तेल लेकर उससे अपने सिर में मसाज करनी होगी, इससे आपके Blood Circulation में भी वृद्धि होगी और आप ताज़गी भरा महसूस करेंगे, आप चाहे तो मसाज के बाद नहा भी सकते हैं इससे भी आप काफी तरो – ताज़ा महसूस करेंगे।

10:- केसर का सेवन :- Depression से निपटने के लिए हम आपको केसर के सेवन करने कि सलाह देंगे. केसर का सेवन करने से आपका मन काफी ज़्यादा शांत होता है, गलत और खराब विचारों की जगह सकारात्मक सोच से भर जाता है.

इसीलिए आपको रोज़ दूध या दूध से बनी चीजों जैसे कि खीर आदि में मिला कर इसे इस्तेमाल कर सकते हैं. जो कि बाकी उपायों की तरह काफी ज़्यादा आपके काम में आएगा और जल्द से जल्द आपको Depression से बाहर आने में आपकी मदद करेगा।

यहाँ जितने भी Depression को दूर करने के घरेलू उपाय और नुस्खे हमने आपको बताएं हैं ये समस्या (Depression) की शुरुआत के लिए हैं. जो की अवसाद से बाहर निकलने के लिए काफी प्रभावी हैं. लेकिन अगर आपकी दिक्कत कुछ ज्यादा बढ़ चुकी हैं तो आपको इन उपायों के साथ Depression को दूर करने की Medicines भी लेनी होंगी.

ताकि आप जल्दी से जल्दी अपने इस रोग को जड़ से समाप्त कर सकें. अन्यथा एक बार ज्यादा आगे बढ़ने के बाद इसे रोकना काफी मुश्किल भरा काम हो सकता है. यहाँ हम Depression से बाहर निकलने के लिए कुछ आयुर्वेदिक और Homeopathic दवाएं बता रहे हैं जो की काफी अच्छे परिणाम देती हैं.

Allopathic Medicines का जिक्र हम इसलिए नहीं करना चाहते क्योंकि एक तो इनके Side Effects बहुत ही ज्यादा हैं और दूसरा Allopathic Depression Treatment काफी ज्यादा महंगा भी पड़ जाता है. तो चलिए जानते हैं कुछ असरकारक दवाओं के बारे में.

Ayurvedic And Homeopathic Medicines For Depression In Hindi – Depression की दवा

(1) ब्राह्मी वटी – Depression के शुरुआती लक्षणों में ब्राह्मी वटी बहुत ही कारगर आयुर्वेदिक दवा है. यह ना सिर्फ तनाव को कम करती है बल्कि मष्तिष्क की कार्यक्षमता में भी बढ़ोतरी करती है. ये आपकी सोचने समझने की क्षमता के साथ साथ आपकी भूलने की आदत को भी सुधारती है.

कई कंपनियां इसे तैयार करती हैं, जैसे पतंजलि, डाबर, बैद्यनाथ और हिमालया वगैरह. बैद्यनाथ कंपनी की ब्राह्मी वटी सबसे Best है जो आपको अवसाद से निपटने में आपकी काफी मदद करती है. नींद की समस्या को दूर करते हुए ये आपके स्नायु तंत्र को Healthy बनाने का काम करती है.

Depression का इलाज

अगर आप जल्दी से जल्दी अच्छे परिणाम चाहते हैं तो इसे बैद्यनाथ अश्वगंधारिष्ट के साथ प्रयोग करें. इन दोनों आयुर्वेदिक दवाओं का संगम Depression को दूर करने का अति उत्तम Formula है. इनकी Dose के बारे में जानकारी लेने के लिए आप किसी आयुर्वेद विशेषज्ञ की सलाह ले सकते हैं.

(2) दशमूल क्वथ – आयुर्वेद में Depression को ठीक करने की दवाएं बहुत सी हैं जिनमें से एक है दशमूल क्वथ. इसमें 12 से भी ज्यादा ऐसे घटक होते हैं जो आपको अवसाद से लड़ने की शक्ति प्रदान करते हैं.

तनाव दूर करने में ये बहुत ही ज्यादा लाभकारी है. आपको किसी भी प्रकार की मानसिक कमजोरी हो, ये उसे दूर करता है. अन्य कई प्रकार के रोगों में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है, पर नींद और तनाव की समस्याओं के लिए ये अति उत्तम है. ये आपके दिमाग को शांत रखती है. आप इसके काढ़े का भी प्रयोग कर सकते हैं.

(3) जटामांसी – ये एक बेहतरीन आयुर्वेदिक दवा है जो मष्तिष्क को शक्ति प्रदान करने का काम करती है. अवसाद को दूर करने के लिए इसका प्रयोग लम्बे समय से किया जाता आ रहा है. इसमें Depression को जड़ से उखाड़ने वाले गुण पाए जाते हैं.

चाहे किसी भी प्रकार का तनाव हो, और कितने भी लम्बे समय से हो, ये उससे लड़ने में सक्षम है. आप इसका Use ब्राह्मी वटी या अश्वगंधारिष्ट के साथ Combination बनाकर भी कर सकते हैं. इन Medicines को साथ में लेने से Depression का इलाज जल्दी और सफलतापूर्वक किया जा सकता है.

(4) सुमेंता टेबलेट्स – चरक फार्मा की तरफ से तैयार की गयी ये दवा हल्के से लेकर Medium Depression तक को ख़त्म करने के लिए बेहतरीन Medicine हैं. इसे कई अन्य बेहतरीन आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों को मिलाकर तैयार किया जाता है, जैसे ब्राह्मी, ज्योतिस्मती, अर्जुना और जटामांसी वगैरह.

लगातार एक महीने तक इसका इस्तेमाल करने से आपको घबराहट और Depression के अन्य लक्षणों से राहत मिल जाती है. इसकी Dose आपके रोग की तीव्रता पर निर्भर करती है. लेकिन Normally इसकी एक Tablet सुबह और एक शाम को ली जा सकती है.

(5) AVN Manomitram – अगर आप सोच रहे हैं की बिना अंग्रेजी दवाओं के अपना Depression कैसे दूर करें तो AVN मनोमित्रम आपके लिए बेहतरीन दवा साबित हो सकती है. इसे कई प्रकार की आयुर्वेदिक दवाओं जैसे अश्वगंधा, ब्राह्मी, शंखपुष्पी और जटामांसी को एक ख़ास अनुपात में मिलाकर तैयार किया जाता है.

मानसिक रोगों को Control करने के लिए ये एक ख़ास आयुर्वेदिक है. मानसिक थकान, तनाव और लगातार बहुत अधिक सोचने की बीमारी को ये नियंत्रित करती है. इससे आपका दिमाग हमेशा शांत रहता है. किसी आयुर्वेदिक Doctor की सलाह करके आप इसे इस्तेमाल कर सकते हैं, इसके कोई Side Effects नहीं है.

ये थी कुछ ख़ास आयुर्वेदिक दवाएं जो आपको Depression के जाल में पूरी तरह फंसने से पहले ही बाहर निकाल सकती हैं. अब बात करते हैं Homeopathic Medicines की, Depression का इलाज Homeopathic Medicines से भी संभव है. खासकर वो लोग जो महँगी दवाएं Afford नहीं कर सकते, उनके लिए ये अति उत्तम हैं.

(6) Tranquil – Depression का पहला और सबसे बड़ा कारण होता है तनाव. तनाव जब लम्बे समय तक रहता है तो ये घबराहट पैदा करना शुरू कर देता है. तनाव और घबराहट दोनों मिलकर Depression को जन्म देते हैं. तो ऐसी स्थिति में Tranquil एक बेहतरीन Medicine है जो आपको इन लक्षणों से छुटकारा दिलाती है.

ये Tablets के रूप में आती है जिन्हें आपको दिन में 3 बार 4-4 Tablets खाना खाने से आधे घंटे पहले लेना होता है. इस दवा के इस्तेमाल से आपको 3-4 दिन में ही अच्छा महसूस होना शुरू हो जाएगा. यही नहीं, ये दवा लेने से आपके दिमाग में आने वाले नकारात्मक विचारों पर भी रोक लग जायेगी.

(7) Schwabe Alfa TS – ये एक असरकारी Homeopathic दवा है जिसका इस्तेमाल शुरू में ही कर लिए जाए तो ये Depression को बढ़ने से रोक देती है. ये दवा कई तरह की Homeopathic दवाओं को मिलाकर तैयार की जाती है.

अगर आपको ऐसा महसूस हो रहा है की आप लम्बे समय से तनाव में हैं, आपको मानसिक थकान और सर दर्द रहता है या आपको किसी से बात करने में Intrest ही नहीं रहा तो इस दवा को सेवन जरूर करके देखें. ये आपके मानसिक तनाव को दूर करके आपमें फिर से Intrest पैदा करेगी. इसे आप दिन में 3 बार 10-10 बूँद आधे कप पानी में मिलाकर लें.

(8) Iganitia Amara – Depression की दवा Medicines तो Homeopathy में बहुत सी हैं पर Ignatia Amara की बात ही कुछ और है. अचानक लगे किसी प्रकार के सदमे से पैदा हुए Depression को दूर करने में ये बहुत ही ज्यादा लाभकारी है.

हमेशा चिडचिडापन और बात बात पर होने वाली घबराहट से छुटकारा दिलवाने के लिए ये एक ख़ास दवा है. अगर आपको लोगों के सामने जाने से डर लगता है, किसी से बात करने में घबराहट महसूस होती है तो ये दवा काफी लाभकारी है. Depression के कारण शरीर में होने वाले कम्पन को भी ये Control करती है.

(9) Aconite 30 – Depression Treatment के लिए Medicines में अगला नाम है Aconite का. अचानक डर के मारे पसीना आना, घबराहट के मारे दिल की धडकनों का बढ़ जाता है और ऐसा लगना की मै मर जाऊँगा, ये Depression के बढ़ जाने के लक्षण हैं.

ऐसी परिस्थितियों पर काबू पाने के लिए Aconitum Napellus काफी बेहतरीन दवा है. अगर आपको हमेशा बहुत ही ज्यादा Nervousness रहती है या आप ऐसे ही बिना बात डरते रहते हैं तो आप इस Medicine का Use किसी Doctor की सलाह से जरूर करके देखें. ये आपके Depression को पूरी तरह से ख़त्म करने का काम करेगी.

(10) Argentum Nitricum – मानसिक विकारों को दूर करने और Depression से लड़कर उसे सफलतापूर्वक दूर भगाने के लिए ये एक अचूक दवा है. सही से नींद ना आना दिमाग का इधर उधर दौड़ते रहना और कुछ भी अच्छा महसूस ना होना जैसे लक्षणों को ये दूर करती है.

Depression के लिए इसका Use बहुत ही ज्यादा अच्छे परिणाम देने वाला है. किसी अन्य Homeopathic Depression की Medicine के साथ इसका Use करना और भी ज्यादा फायदेमंद होता है. हमेशा रहने वाली घबराहट और तनाव को दूर करने में ये आपकी मदद करती है.

Depression से सम्बंधित पूछे जाने वाले सवाल और उनके जवाब

(1) क्या Depression का इलाज संभव है?

उत्तर – जी हाँ Depression एक Treatable Disease है जिसका इलाज संभव है.

(2) क्या Anxiety ही Depression है? या फिर इन दोनों में क्या फर्क है?

उत्तर – अगर आपको बार बार सिर्फ घबराहट होती है तो ये Anxiety है. जबकि Depression का मतलब है घबराहट, मानसिक थकान, Life से Intrest खत्म होना, किसी से भी बात करने में Intrest ना होना और हमेशा नकारात्मक विचारों में घिरे रहना.

(3) Depression के Treatment लिए कौनसा बेहतर हैं? Allopathy? Ayurved या फिर Homeopathy?

उत्तर – हर व्यक्ति का शरीर अलग होता है, जिसको जो ज्यादा सूट करे वही बेहतर हैं. लेकिन अगर आपमें अभी अभी Depression के लक्षण आना शुरू ही हुयें हैं, मतलब ये ज्यादा पुराना नहीं है तो Depression के लिए Ayurvedic और Homeopathic दवाएं ही बेहतर रहेंगी. क्योंकि इनके कोई Side Effects भी नहीं हैं.

(4) क्या एक बार Depression हो जाने पर अपने आप ठीक हो सकता है?

उत्तर – Life में सबको कभी ना कभी Depression होता ही है, जो की परिस्थतियाँ ठीक होने पर अपने आप चला जाता है. लेकिन जब Depression तीव्र हो और काफी दिन बीत चुके हों तो Medicines का सहारा लेना ही समझदारी है.

(5) क्या कम नींद लेने से भी Depression हो सकता है?

उत्तर – Depression सिर्फ इस चीज़ से नहीं हो सकता. लेकिन फिर भी आपको पूरी नींद लेने की कोशिश करनी चाहिए ताकि तनाव पैदा ना हो.

(6) मै कैसे पता करूँ की मै Depression में हूँ?

उत्तर – पोस्ट में ऊपर हमने इसके लक्षण बताएं हैं अगर आप लगातार लम्बे समय ( 3 महीने से ज्यादा समय) से ऐसा अनुभव कर रहे हैं तो 70% से ज्यादा Chances हैं की आप Depression का शिकार हो चुके हैं.

(7) अगर Depression से बाहर निकलने के उपाय ना किये जाएँ या कोई भी दवा ना ली जाए तो ये कितने दिन तक रह सकता है?

उत्तर – इसके बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता. कई लोगों में ये कुछ महीने चलता है, दूसरों में कई साल और कई बार ये बढ़ता ही चला जाता है जो अपने आप ठीक नहीं होता.

(8) क्या Depression के सभी मरीज़ आत्हत्या कर लेते हैं?

उत्तर – नहीं ऐसा तो बिलकुल भी नहीं है, बल्कि 80% से ज्यादा लोग सही Treament के सहारे बहुत ही जल्द बिलकुल ठीक हो जाते हैं. कुछ का इलाज थोडा लम्बा चल सकता है, लेकिन Suicide वाली बात बिलकुल भी सच नहीं है.

इन्हें भी जरूर पढ़ें –

आप पढ़ रहे थे हमारी पोस्ट Depression का इलाज – Depression कैसे दूर करें. जिसमें हमें आपको Depression दूर करने की दवा (Medicines) और घरेलू उपायों के बारे में बताया. उम्मीद है Depression क्या है? क्यों होता है? और इससे कैसे बाहर निकलें आप समझ चुके हैं.

अगर आपको ये लेख अच्छा लगा हो तो इसे Like और Share जरूर करें ताकि अन्य लोगों तक भी ये जानकारी पहुँच सके. हमारे साथ जुड़ने के लिए हमारे Facebook Page को Like करें और हमें Subscribe भी कर लें. अगर आपका कोई सवाल है तो नीचे Comment Box में Comment करें. Thanks.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *